शांगड ……एक रमणीक स्थान

शांगड ……एक रमणीक स्थान

हिमाचल प्रदेश अपने आप में ही एक सुंदर नाम,जहाँ प्रकृति वाकयी में पूरी तरह से मेहरबान है, ऊंचे-ऊंचे बर्फ़ीले पहाड़, मख़मली मैदान,संगीतमयी धुनों से लबालब झरने नदियाँ, झीलें, देवदार,चीड़, बान,खरशूओं के वृक्षों से लदी हिमाचल की धरती शायद यही सब वो प्रकृति की देन हैं कि पर्यटक यहाँ खींचे चले आते हैं, तो आइए आज़ जिला कुल्लू के ” शांगड ” से प्रकृति को और क़रीब से देखें, 


और इसके बारे में जाने, जो हमारे जीवन में इतने रंग लेकर आयी है!

प्रकृति की गोद में बसा यह सुन्दर शांगड मैदान अपने आप में हर किसी को मोहित करता हैं। चारों तरफ़ देवदारों के सुंदर वृक्षों से घिरा सुंदर मैदान जो मन को हर लेता है !

इसी सुंदर मख़मली घास के मैदान के साथ बसा है सुंदर गांव ‘ ” शांगड” जो कि ग्रेट हिमालयन नैशनल पार्क के साथ बिल्कुल सटा है, इतनी रमणीक जगह होने के बावज़ूद भी अपने वजूद को तलाशता ये स्थान इतनी सुंदरता के बावज़ूद अपने को पर्यटक की दृष्टि से अपनी ऐतिहासिक गाथा प्रतिष्ठित नहीं कर पाया जो वाकयी में चिंता का विषय है, क्योंकि यहाँ बहुत सारे पहाड़ी गानों के वीडियो शूट हो चुके हैं तथा बॉलीवुड के जाने माने निर्देशक अजय सकलानी भी एक हिमाचली फ़िल्म ” सांझ ” यहाँ बना चुके हैं !

अजय सकलानी द्वारा हिमाचली फ़िल्म ” सांझ ” की शूटिंग इसी पहाड़ी शैली के मकान में हुई थी !

सैंज घाटी का यह शांगड मैदान 130 बीघा भूमि में फैला है और इसका इतिहास आज से 5000 बर्ष पुराना है, जब पांडवो को यह भूमि शंगचुल महादेव ने उनके बनवास काल में दी थी। हम यहां ज्यादा इतिहास में नहीं जायेंगे बल्कि जो आज है उसको जानने की कोशिश करेंगे। आज भी यह सुन्दर मैदान 130 बीघा में फैला है और गांव में शंगचुल महादेव का सुन्दर और भव्य का काष्ठकुणी शैली का मंदिर बना हैं, जहाँ पर शंगचुल महादेव जी विराजमान हैं !

मैदान के दाएं भाग में भी महादेव जी का मंदिर है जो इस मैदान की सुंदरता में चार चांद लगा देता है, मैदान के चारों तरफ ऊंची ऊंची बर्फ से ढकी चोटियां है, जिनमें लगभग 4 महीने बर्फ रहती हैं। सूर्योदय और सूर्यास्त का नजारा देखने में बहुत ही मनमोहक लगता है, जो सच में यहाँ प्रकृति की मेहरबानी का अहसास करवाता है !

सूर्योदय क़ा ख़ूबसूरत नज़ारा ....
सूर्योदय क़ा ख़ूबसूरत नज़ारा ….
सूर्यास्त क़ा सुंदर दृश्य
सूर्यास्त क़ा सुंदर दृश्य

यहां आने के लिए आप को Aut नेशनल हाई वे 21 से NH 305 में 4 किलोमीटर ड्राइव कर लारजी पेट्रोल पम्प से बायीं तरफ़ मुड़कर कर सैंज वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के रोपा से 6 किलोमीटर पर तक जाना होता है और जाते ही जन्नत के दर्शन होते हैं, वैसे तो इस जगह की खूबसूरती को शब्दों में बयां करना मेरे लिए आसान नहीं लेकिन फ़िर भी इस ख़ूबसूरत नज़ारे को देखकर तारीफ़ में मुँह से केवल यही शब्द निकलते हैं ………..

” प्रकृति की गोद में ही समाया है 
यह सारा जीवन, 
प्रकृति ने दिया हमें बहुत कुछ, 
हम भी तो कुछ करें इसे अर्पण ”